गोरखपुर के अगवा बच्चे की हत्या; अखिलेश बोले-भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन प्रश्नचिन्ह के घेरे में है

 BY- FIRE TIMES TEAM

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर से अपहरण किये गए बच्चे की हत्या हो गई है। इससे पहले कानपुर में भी ऐसा ही मामला सामने आया था जहाँ अपहरण किये गए लैब टेक्नीशियन की हत्या कर दी गई थी।

गोरखपुर की इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया-

गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या का समाचार बेहद दर्दनाक व दुखद है. शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना. लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिन्ह के घेरे में है.’

क्या था मामला:

कानपुर, गोंडा के बाद गोरखपुर में भी एक व्यवसायी के बच्चे का अपहरण हो गया। और अपहरण करने वालों ने बच्चे की फिरौती के लिए 1 करोड़ की मांग की है।

यह घटना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर की है। पिपराइच थाना क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले जंगल छत्रधारी गांव, मिश्रौलिया टोला निवासी 14 वर्ष के बलराम गुप्ता का अपहरण रविवार को हो गया।

बच्चे के पिता महाजन गुप्त घर पर ही किराने की दुकान चलाते हैं और साथ ही रीयल स्टेट का भी काम करते हैं। बलराम रविवार दोपहर करीब 12 बजे खाना खाने के बाद टीशर्ट और पैंट पहनकर दोस्तों के साथ खेलने चला गया लेकिन वापस नहीं लौटा।

इसके लगभग 3 घण्टे के बाद एक अनजान नंबर से फोन आया कि बलराम को किडनैप कर लिया गया है। बच्चे को छुड़ाने के लिए 1 करोड़ का इंतजाम कर लो। पैसा कब और कहां पहुंचाना है दोबारा फोन करेंगे।

महाजन गुप्त ने उस नंबर पर फोन लगाया तो वह स्विच ऑफ था। उन्हें अपने बेटे के अपहरण की बात पर विश्वास नहीं हो रहा था। काफी खोजबीन के बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। इसके बाद क्राइम ब्रांच और एसटीएफ भी लोगों  से जानकारी जुटाने में लग गयी है।

एसएसपी डा. सुशील गुप्ता ने बताया कि बच्चे के पिता के पास आये नंबर को ट्रेस किया जा रहा है। टीम अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए तेजी से काम कर रही है। जल्द ही इसका पर्दाफाश किया जायेगा।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.