लखनऊ में घायल मजदूर को एंबुलेंस न मिलने के कारण रिक्शे से ले जाना पड़ा अस्पताल

BY – FIRE TIMES TEAM

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार वैसे तो विकास और काम के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को निभाये जाने का बखूबी दंभ भरती है। लेकिन प्रदेश में प्रशासन और सरकारी व्यवस्थाओं की हालत किसी से छिपी नहीं हैं।

प्रदेश के सरकारी तंत्र की सच्चाई जानने के लिए हम आपको आज ही घटित एक घटना का उदाहरण देते हैं। जो कि राज्य के दूर-दराज जिलों का नहींं बल्कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ की है।

 

दरअसल लखऩऊ के बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर यूनिवर्सिटी (BBAU) के पास किला चौराहे से बिजनौर की तरफ जाने वाले रास्ते में रेलवे क्रॉसिंग के पास से ओवरब्रिज के लिए निर्माण कार्य हो रहा है।

 

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश : क्या मिशन शक्ति एक ढोंग है?

 

विश्वविद्यालय के गेट नं. 3 के बगल में ही मशीन द्वारा गड्ढे की खुदाई की गई है जिसकी गहराई तकरीबन 60 फुट है। कार्य के दौरान एक मजदूर अचानक उसी गड्ढे में गिर गया।

 

 

जिसके कारण सरिया उसके पैर में आर पार हो गई और उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। मौके पर एंबुलेंस न मिलने के कारण मजबूरन उसे रिक्शे से अस्पताल ले जाया गया । मजदूर का नाम विकास बताया जा रहा है।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.