बेटियों ने कंधे पर लाद रखा था हल, सोनू सूद ने भिजवा दिया ट्रैक्टर

 BY- FIRE TIMES TEAM

अभिनेता सोनू सूद ने एक बार फिर से दिल जीतने वाला काम किया है। दरअसल सोशल मीडिया पर दो बहनों और एक माँ का वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वह खेत में काम करते हुए नजर आ रही थीं। दोनों बेटियों ने स्वयं ही हल अपने कंधे पर रखकर जोत रही थीं।

इसी वीडियो को देखने के बाद अभिनेता सोनू सूद ने मदद करने के लिए हाँथ आगे बढ़ाए। उन्होंने ट्वीट किया कि कल सुबह से दो बैल इसके खेत जोतेंगे। किसान हमारे देश के गौरव हैं।

जानकारी के अनुसार वी. नागेश्वर राव कोरोना के प्रकोप से पहले मदनपल्ले शहर में चाय की दुकान चला रहे थे। कोरोना से संकट के बाद वह अपने पैतृक गांव महालराजुवारी आए। कई मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया कि परिवार महामारी को देखते हुए गांव लौट आये हैं।

श्री राव के बूढ़े माता-पिता गाँव में ही रहते हैं और जमीन के एक छोटे से हिस्से के मालिक हैं। उन्होंने कथित तौर पर मूंगफली की फसल उगाने का फैसला किया था।

श्री राव ने मीडिया को बताया कि वह अपनी पत्नी और बेटियों की मदद से भूमि के मिलाने का प्रबंधन कर सकते हैं। उनकी बेटियों ने कहा कि परिवार लगभग दो दशकों से मदनपल्ले में रह रहा था और वे एक महीने पहले गांव आए थे। बुवाई के लिए ज्यादा समय नहीं बचा था। इस कारण परिस्थितियों को देखते हुए उन्होंने स्वयं ही काम करने का विचार बनाया।

जुताई का वीडियो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और श्री सूद ने वीडियो देखने के बाद परिवार को ट्रैक्टर देने का वादा किया।

अभिनेता सोनू सूद के ट्वीट के बाद अमरावती में सरकारी अधिकारियों का इस मसले पर ध्यान आकर्षित हुआ है।। रविवार एक अन्य ट्वीट में, अभिनेता ने कहा: “परिवार बैल की एक जोड़ी के लायक नहीं है। वे एक ट्रैक्टर के लायक हैं। इसलिए आपको एक भेज रहा हूं। शाम तक एक ट्रैक्टर आपके खेतों की जुताई करेगा। धन्य रहना।”

मीडिया रिपोर्ट में भी परिवार की हालत दयनीय बताई गई है। खेत की जुताई के लिए भी यह परिवार पैसे का जोखिम नहीं उठाना चाहता था।

सबसे दिलचस्प बात यह है कि ट्रैक्टर इनके घर तक शाम तक पहुंच भी गया। इसको लेकर यह परिवार काफी खुश है। गांव के लोग अभिनेता सोनू सूद को शुभकामनाएं भी दे रहे हैं।

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.