विवादास्पद लव जिहाद कानून के तहत हिरासत में ली गई महिला का इंजेक्शन देकर कर दिया गर्भपात

 BY- FIRE TIMES TEAM

लव जिहाद का विवादास्पद कानून उत्तर प्रदेश में कई मामलों को लेकर चर्चा में है। ताजा मामला एक महिला के गर्भपात को लेकर सामने आया है।

उत्तर प्रदेश की रहने वाली जहाँ ने बताया कि उनकी तीन महीने की गर्भवती बहू को स्टाफ द्वारा बच्चे को गर्भपात करने के लिए एक इंजेक्शन दिया गया था। उसने मुस्लिम से शादी कर ली थी और बाद में अपना धर्म भी बदल लिया था।

श्रीमती जहान ने कहा, “अत्याचारी दुनिया ने इस बच्चे को दुनिया को देखने से पहले अलविदा कर दिया। 27 वर्षीय मुस्कान के पति रशीद को उत्तर प्रदेश की एक अज्ञात जेल में रखा जा रहा है।”

लव जिहाद को लेकर गिरफ्तारियों ने बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज कर दिया है।

यही नहीं चार अन्य भारतीय जनता पार्टी शासित राज्यों में इसी महीने के अंत में इसी तरह के कानून पारित होने की उम्मीद है। हालांकि फरवरी में भारत सरकार स्वीकार करने के बावजूद राष्ट्रव्यापी तथाकथित ‘लव जिहाद’ के एक मामले का पता नहीं लगा पाई थी।

कानून किसी भी धर्म को निर्दिष्ट नहीं करता है, लेकिन उत्तर प्रदेश में पुलिस मुसलमानों को निशाना बना रही है। कम से कम दस मुस्लिम पुरुषों को अब तक गिरफ्तार किया गया है।

मुसकान और रशीद की मुलाकात तब हुई जब रशीद उत्तरी भारतीय शहर देहरादून में हेयरड्रेसर के रूप में काम करने के लिए अपने गरीब परिवार को घर छोड़ कर गए थे।

टेलीग्राफ में छपी खबर के अनुसार वह बहुत शादी नको लेकर काफी उत्साहित था।

रशीद और पिंकी को मुरादाबाद में एक सैलून में नई नौकरी मिल गई। पिंकी ने जुलाई में शादी से पहले इस्लाम धर्म अपनाकर अपना नाम मुस्कान कर लिया। जल्द ही वह गर्भवती हो गई।

रशीद की मां ने कहा, “हर माँ की तरह, मेरा भी सपना था कि मेरे बेटे की शादी हो और फिर मुस्कान की प्रेग्नेंसी की खबर से हम सभी की खुशी बढ़े।”

“हमारे घर में कोई छोटा बच्चा नहीं है जिसे हम अपनी गोद में लेकर खिला सकें और हमारा सपना था कि हम बच्चे को शिक्षा के साथ एक अच्छा इंसान बनाएंगे।”

About Admin