अरबों रुपये लेकर भागने वाले विजय माल्या के प्रत्यावर्तन का फैसला अंतिम समय में टला

BY- FIRE TIMES TEAM

भारत की बैंकों को कंगाल बनाकर विदेश भागने वाले विजय माल्या की भारत वापसी अभी जल्द नहीं हो पाएगी। एनडीटीवी से बात करते हुए ब्रिटिश उच्चायुक्त ने कहा कि कुछ कानूनी मसले हैं जिनका निपटारा होना बाकी है।

उन्होंने कहा कि जब तक पूरे मामले का निपटारा नहीं हो जाता, किसी को प्रत्यावर्तित नहीं किया जा सकता है। अभी कुछ मुद्दे अनसुलझे हैं।

कौन से मुद्दे अनसुलझे हैं यह उन्होंने नहीं बताया। गोपनीयता का हवाला देते हुए इस मुद्दे पर विस्तार से कुछ कहने से इनकार कर दिया।

प्रत्यावर्तन को रुकवाने के लिए विजय माल्या ने ब्रिटिश अदालत में एक याचिका दायर की थी लेकिन वह मुकदमा हार चुका है। तब अदालत ने माल्या को भारत भेजने का आदेश दे दिया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी तब माल्या ने अपने एक ट्वीट के माध्यम से कहा था कि कोविड-19 राहत पैकेज के लिए बधाई! वे जितनी मुद्रा चाहे छापें, छाप सकते हैं। पर क्या मुझ जैसे छोटे अंशदाता की लगातार उपेक्षा करना ठीक है, जो पेशकश कर रहा है कि सरकारी बैंकों का पूरा कर्ज चुका देगा?

विजय माल्या भारतीय बैंकों से करीब 9000 करोड़ रुपये कर्ज के रूप में लिए थे और उसे चुकाए बिना ही विदेश भाग गया। वह अभी लंदन में रह रहा है। भारत में उसके खिलाफ मनीलांड्रिंग का आरोप लगाकर नोटिस भी दिया गया है।

यह भी पढ़ें: RBI ने मेहुल चोकसी समेत 50 डिफॉल्टर्स का 68,607 करोड़ का लोन माफ किया

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.