उत्तर प्रदेश युवा समता मंच ने तीन दिवसीय कार्यशाला में युवाओं को दिया उचित मार्गदर्शन

BY- FIRE TIMES TEAM

आज भारत को नौजवानों के देश कहा जाता है जहाँ देश की 60 फीसदी आबादी 15-30 साल के बीच है और जब इतनी ज्यादा तादाद में यूवा किसी देश मे हों तो जिम्मेदारी और बढ़ जाती है।

खासकर उत्तर प्रदेश में इसकी जनसंख्या को देखते हुए एक ऐसे मंच की जरूरत महसूस हो रही,जो इन युवाओं का सही मार्गदर्शन कर सके,जो इनके विकास में सहायक हो और ये समय की मांग भी है कि इन यूवाओं का उचित मार्गदर्शन हो खासकर वो तबका जो हासिये पर रह रहा हो, जिससे वो अपनी मंजिल तक पहुँच सके। परंतु ये दुख की बात है कि किसी तरह की कोई पहल होती नही दिख रही है।

इसी फासले को ध्यान में रखते हुए, राष्ट्रीय युवा समता मंच, जो कि राष्ट्रीय स्तर पर युवाओं का एक ऐसा संगठन है जो समाज मे हासिये पर रह रहे युवाओं का उचित मार्गदर्शन के साथ साथ इनके कौशल को बढ़ाने का काम करती जिससे वो समतामूलक समाज की स्थापना में सहायक हो और दलित, पिछड़े, अल्पसंख्यक और सामाजिक रूप बहिष्कृत समुदाय के युवाओं को एक आवाज़ प्रदान कर सके।

विगत 23-25 जनवरी को सहभागी शिक्षण केंद्र, लखनऊ के प्रांगण में 3 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें उत्तर प्रदेश और बिहार के लगभग 10 जिलों से आये अनेक युवाओं से संगठन की जरूरत और उनकी प्रासंगिकता पर विचार विमर्श किया गया।

इन युवाओं को सेल्फ टू सोसाइटी और अनुभव आधारित प्रशिक्षण के माध्यम से संवाद स्थापित किया गया और सर्वसम्मति से ये निर्णय लिया गया कि इस साल के अंत तक हम 600 युवाओं की ऐसी टीम तैयार करेंगे जो संगठन के लिए एवं खुद के कौशल अर्जन के लिए काम करेगा।

सभी ने संगठन के रूप में उत्तर प्रदेश युवा समता मंच (UPYEF) के विस्तार एवं इसके संवैधानिक ढांचा के ऊपर बात किया और 1 साल की कार्ययोजना बनाई।

राष्ट्रीय युवा समता मंच के परियोजना अधिकारी अजित शेखर ने कार्यक्रम की सुरूवात में सबको संविधान के प्रस्तावना की सपथ दिलाई एवं संगठन के महत्व पर प्रकाश डाला।

इस कार्यशाला के आयोजन में बिहार अम्बेडकर विद्यार्थि मंच का महत्वपूर्ण योगदान रहा जो बिहार में विगत 10 सालों से हासिये पर रह रहे युवाओ की आवाज़ बना हुआ है और राष्ट्रीय युवा समता मंच का अभिन्न अंग है।

बिहार अम्बेडकर विद्यार्थी मंच की तरफ से अजय रविदास, उपेंद्र मांझी जाफ़रीन नेहा, सौरव कुंमार तथा बुंदेलखंड दलित अधिकार मंच से कुलदीप बौद्ध जी एवं केअर (यूपी) से वलीउल्लाह जी ने इन 3 दिनों में युवाओं स्वयं और संगठन के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर अपनी बात रखी।

कार्यक्रम के अंत मे राष्ट्रीय युवा समता मंच के सरंक्षक सत्येंद्र कुमार (सत्या) जी ने युवाओं के सर्वांगीण विकास के लिए अहम बिंदुओ पर सभी को प्रशिक्षित किया एवं उत्तर प्रदेश युवा समता मंच के साथीयों को बधाई एवं आने वाले समय के लिए सुभकामना दिया।
धन्यवाद ज्ञापन मंच के समन्यवक अजीत शेखर ने सभी साथियों को धन्यवाद देकर उनके आने वाली समय के लिए शुभकामनाएं दी।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.