जो 3 मुकदमे होने पर संसद में रो पड़े थे उन्होंने 9 दिन में मुझपर 9 मुकदमे कर दिए: संजय सिंह

 BY- FIRE TIMES TEAM

उत्तर प्रदेश में राजनीतिक घटनाक्रम काफी तेजी से बदल रहा है। योगी आदित्यनाथ की सरकार पर उनकी ही पार्टी के लोग आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद से ही उत्तर प्रदेश में जातिवाद की नई राजनीति शुरू हो गई है।

इसी मुद्दे को लेकर आप सांसद संजय सिंह भी यूपी सरकार को लेकर आड़े हाथों ले रहे हैं। जातिवाद की राजनीति पर बोलने वाले संजय सिंह पर यूपी में जमकर एफआईआर भी हुईं। एफआईआर होने के बाद आप सांसद ने एक ट्वीट के माध्यम से अप्रत्यक्ष रूप से योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘जो 3 मुकदमे होने पर संसद में रो पड़े थे उन्होंने 9 दिन में मुझपर 9 मुकदमे कर दिए।यूपी में अब सच बोलने का इनाम ‘मुक़दमा’ बन चुका है। सरकार से सवाल पूछने पर कभी पत्रकारों पर, कभी अधिकारियों पर तो कभी जनसेवकों पर मुक़दमा कर दिया जाता है। ऐसा अत्याचार तो अंग्रेजों ने नहीं किया।’

आपको बता दूं कि वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब गोरखपुर के सांसद थे तब वह अपने ऊपर किये गए मुकदमों को लेकर संसद में भाषण देते वक्त काफी भावुक हो गए थे। उसके बाद संसद में उनको काफी सपोर्ट भी मिला था।

अब जब संजय सिंह पर लगातार एफआईआर हो रही हैं तब वह और भी ज्यादा आक्रामक तेवर के साथ बीजेपी सरकार पर हमलावार हो रहे हैं। उन्होंने कई ट्वीट किए हैं जिनसे आप समझ सकते कि वह कितने आक्रामक होते जा रहे हैं

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, ‘मैं भी उत्तरप्रदेश का बेटा हूँ, यहीं की मिट्टी में पला बढ़ा और यहीं का पानी पीया। यहाँ का हर घर मेरा घर है और बच्चा बच्चा मेरा परिवार। अतः यहाँ की समस्याओं पर बोलने और सरकार से सवाल पूछने का हक मुझे जनप्रतिनिधि होने से पहले यहाँ का निवासी होने के कारण है। उसे कोई छीन नहीं सकता।’

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.