UP Panchayat Election: विधानसभा की सूची में हैं वोटर लेकिन पंचायत की सूची से नाम गायब

 BY- FIRE TIMES TEAM

ग्राम पंचायत निजामपुर ब्लाक बावन थाना लोनार तहसील सदर जनपद हरदोई की पंचायत सूची में असीमित गड़बड़ी की शिकायत 22 अक्टूबर 2020 को उपजिलाधिकारी सदर हरदोई तथा 19 नवंबर 2020 को जिलाधिकारी जी से शिकायत की गई।

ततपश्चात जिलाधिकारी जी के दिशानिर्देश पर सदर उपजिलाधिकारी श्रीमती लक्ष्मी एन.जी ने ग्राम पंचायत निजामपुर में स्वंम आकर भौतिक सत्यापन किया जिसमें 372 फर्जी वोटों की शिकायत में लगभग 286 वोट काटे गये।

परन्तु फर्जी वोटों के साथ ही गाँव के असली लगभग 50 वोटों को भी काटा गया। बीएलओ श्री रामविलास भास्कर जी ने गाँव के प्रधान के साथ मिलकर असली ग्रामीणों के लगभग 160 वोटों को बनाने हेतु जरूरी दस्तावेज लेने के बाद भी वोट नहीं बनाए जबकि 160 में लगभग 100 वोटर के नाम विधानसभा की सूची में पहले से ही सम्मिलित हैं।

छूटे हुए ग्रामवासियों के नामों को प्रथम प्रकाशन के बाद से 30 दिसंबर 2020 को शिकायत की लेकिन बीएलओ ने 3 जनवरी को फिर से दस्तावेज मांगे तब सभी ग्रामीणों ने प्राप्ति रसीद मांगने की जिद की तो वह उग्र हो गये विवाद से बचने हेतु पुनः उपजिलाधिकारी सदर जी से सम्पर्क किया तब उन्होंने तहसील स्तर पर जमा करने की बात की।

लेकिन जब फार्म तहसील स्तर पर जमा नहीं हो सके तब 6 जनवरी 2020 को आदरणीय जिलाधिकारी जी के कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर फार्मो को जमा कराया गया। बीएलओ व ग्राम प्रधान श्री नाज़िम जी की साजिश के तहत छोड़ें गए नामों को सम्मिलित कराने हेतु 19 जनवरी को राज्य निर्वाचन आयोग उत्तर प्रदेश के आयुक्त से शिकायत भी की गई लेकिन साजिश के तहत छोड़ें गए नामों को नहीं जोड़ा गया।

नामो को जोड़ने के स्थान पर पहली पुनरीक्षण की जाँच में काटे गए वोटों में सुदर्शन पुत्र गणपति निवासी भुड़िया के 5 वोटों को 3 वर्ष पूर्व बेंचे गए मकान को अपना दिखा कर पुनः सूची में जुड़वा दिए गये हैं।

इतना भृष्टाचार जो की लोकतंत्र की सरेआम हत्या हो रही है, इसलिए समाजसेवी सतीश कुमार वर्मा ने उच्च न्यायालय लखनऊ में ग्राम पंचायत सूची में हेराफेरी के खिलाफ विशेष PIL दाखिल की है।

कुछ शिकायतकार्ताओं के नामों को आगे लिख दे रहा हूँ-
अनुराग पुत्र राकेश राठौर, साधना पुत्री शिवशरण, अनीता पुत्री सुखपाल राठौर, रोशनी पुत्री रामप्रताप ,कमला देवी पत्नी महेश,राहुल पुत्र सुरेश, विवेक कुमार पुत्र अशोक कुमार, कमलेश पुत्र वर्मा, ब्रजेश पुत्र वर्मा,रामशिला पत्नी कुलदीप, नीलम पत्नी उमेश राठौर, आकाश पुत्र महेश, रंजना पुत्री अशोक, साधना पुत्री महेश, लक्ष्मी पुत्री राजेश, रामभरोसे राठौर पुत्र गुरबख्श, नीलम पत्नी रामवीर, रामकृष्ण पुत्र खुशीराम, सोनी पत्नी अजयवीर, सरोजिनी पत्नी रामनरेश ,अमरदीप पुत्र धर्मवीर राठौर, अनूप कुमार पुत्र जागेश्वर, आसमा बानो पत्नी हफीज, अंशिका पुत्री राजेश, राजेश पुत्र मोतीलाल, राजेश्वरी पत्नी राजेश, अविरल पुत्र रामसहाय ,शालिन्द्र कुमार पुत्र विजयपाल, रामनरेश पुत्र गुरूबक्स, कौशल कुमार पुत्र जागेश्वर, आंचल पुत्र रामसहाय, सुमित पुत्र रामसहाय ,छोटी बिटिया पत्नी पिंटू वर्मा, मनोज कुमार पुत्र रामप्रताप ,राम लखन पुत्र राम चरन, कमल किशोर पुत्र जागेश्वर, संदीप कुमार पुत्र सर्वेश, मोहम्मद हुसैन पुत्र समद खान, शाहनुमा पुत्री समद खां, सना बानो पुत्री समद खां, गुलाम हुसैन पुत्र समद खां, धर्मेंद्र पुत्र गुरुसरन, गुरुसरन पुत्र रघुवर बाबुशेर,आदि।

ये सभी जांच कर के देखे जा सकते हैं, इनके नाम विधानसभा की सूची में हैं पर पंचायत की सूची में नहीं।
अभी और भी सैकड़ों नाम हैं जिनके वोट नहीं बनाए जा रहे हैं।

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.