गुजरात: अहमदाबाद के कैडिला फार्मास्यूटिकल्स में काम करने वाले तीन कर्मचारियों की कोरोना वायरस से हुई मौत

BY- FIRE TIMES TEAM

कोरोना वायरस की वजह से शुक्रवार को गुजरात स्थित कैडिला फार्मास्यूटिकल्स के तीन कर्मचारियों की मौत हो गई।

इस महीने की शुरुआत में, 26 कर्मचारियों का COVID-19 टेस्ट पॉजिटिव आया था।

जब फार्मास्यूटिकल के 35 कर्मचारी संक्रमित पाए गए तब संयंत्र ने 7 मई को परिचालन बंद कर दिया।

जिन तीन लोगों की मौत हुई, उनकी पहचान उत्पादन विभाग में सहायक महाप्रबंधक, पैकेजिंग विभाग में पर्यवेक्षक, अशोक पटेल और एक संविदा कर्मचारी उमेश चौहान के रूप में हुई।

कंपनी के एक अधिकारी ने बताया कि मृतक 40 से 58 वर्ष के बीच के थे।

अधिकारियों ने कहा कि हिमांशु और अशोक अहमदाबाद के निवासी थे और अस्पताल में भर्ती थे।

कंपनी के एक अधिकारी ने कहा, “उमेश और अशोक का शुरुआत में COVID-19 टेस्ट हुआ था जो कि पॉजिटिव था, जबकि हिमांशु का बाद में टेस्ट हुआ और वो भी पॉजिटिव निकला।”

अधिकारी ने कहा कि उमेश का इलाज ढोलका के भाट गांव में घर पर किया जा रहा था, अस्पताल ने उसे वापस भेज दिया क्योंकि उनका स्वस्थ सही हो गया था।

अधिकारी ने कहा, “हालांकि, तीन दिनों के बाद उनकी हालत काफी गंभीर होने लगी थी।”

कैडिला फार्मास्यूटिकल्स के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी अपने कर्मचारियों की मौत से दुखी है।

उन्होंने कहा, “हमने ऐसी टीमें बनाई हैं जो पहले से ही संक्रमित या क्वारंटाइन हुए लोगों के परिवारों से बात कर रही हैं।”

कैडिला फार्मास्यूटिकल्स जल्द ही अपना प्लांट फिर से खोलने की योजना बना रहा था।

प्रवक्ता ने कहा, “हम प्लांट को फिर से खोलने के लिए तैयार कर रहे थे। हमने सुविधा के कई इंतजाम भी किये थे और राज्य सरकार के स्वास्थ्य अधिकारियों ने पहले ही इसके लिए एक ऑडिट आयोजित किया था।”

वर्तमान में, अहमदाबाद जिले के ढोलका शहर में एक जैन मंदिर के परिसर में कैडिला द्वारा बनाए गए एक केंद्र में फर्म के आठ कर्मचारी और उनके तीन रिश्तेदार रहते हैं।

अहमदाबाद भारत के सबसे खराब शहरों में से एक है जहां कोरोना वायरस संक्रमण सबसे अधिक है।

राज्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, शनिवार तक यहां COVID-19 के 9,724 मामले सामने आए हैं और 645 लोगों की मौत हो चुकी है।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.