रेप आरोपी और भगोड़े नित्यानंद ने गणेश चतुर्थी पर “रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा” खाेलने का किया ऐलान

BY – FIRE TIMES TEAM

अपहरण, रेप मामले में आरोपी और भारत से 17000 करोड़ रूपये लेकर फरार हुआ नित्यानंद ने कुछ दिन पहले ही दक्षिण अमेरिका में  कैलाशा नामक देश बनाने का ऐलान किया था। उसने इक्वाडोर में एक द्वीप खरीदने का दावा किया था जिसे इक्वाडोर सरकार ने खारिज कर दिया था।

स्वयंभू बाबा नित्यानंद ने अब इक्वाडोर के पास एक द्वीप पर रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा खोलने का ऐलान किया है। एक नये वीडियो में नित्यानंद यह कह रहा है कि उनके देश ( कैलासा ) ने एक अन्य देश के साथ एमओयू किया है। जो उनके बैंक की मेजबानी करेगा, जिसे हिन्दू निवेश और रिजर्व बैंक कहा जायेगा।

दो दिन पहले ही जारी एक वीडियो में उसने कहा कि गणपति की कृपा से हम गणेश चतुर्थी पर बैंक के बारे में पूर्ण विवरण और करेंसी का खुलासा करने जा रहे हैं। बैंक की आर्थिक नीतियां, 300 पेज का दस्तावेज और करेंसी की तैयारी पूरी हो चुकी है।

बकौल नित्यानंद इस बैंक की सभी रणनीति कानून का पालन करके तैयार किया गया है जिससे मुद्रा संचालन और विश्व में विनिमय सम्बन्धी कोई समस्या नहीं होगी।

उसकी बेबसाइट  nithyanandapedia.org  के अनुसार कैलासा दुनिया का सबसे बड़ा डिजिटल हिन्दू राष्ट्र है। इसका अपना ऋषभ ध्वज नामक झण्डा है। इसके अलांवा अंग्रेजी, संस्कृत और तमिल आधिकारिक भाषाएं भी हैं।

आपको बता दें कि नित्यानंद करीब 10 महीनों से लापता है। इससे पहले उसका ट्रिनिनाड एवं टोबैगो में होने की बात की जा रही थी। उसे गुजरात पुलिस के साथ-2 इंटरपोल भी ढूंढ रही है। भारत में उसके खिलाफ रेप सहित कई आरोप हैं।

वह अपने अनुयायिओं को भौतिक पासपोर्ट की सुविधा दिलाना चाहता था, लेकिन उसकी रेसीडेंसियल एप्लीकेशन्स नामंजूर होने के कारण अब ई-पासपोर्ट जारी करता है। और लोगों से वर्चुअली सम्पर्क करता है।

नित्यानंद ने अमेरिका में कैलासा से जुड़े 10 से भी ज्यादा नॉन-प्रॉफिट या फिर पब्लिक बेनेफिट एनजीओ हैं। ये पूरे अमेरिका के शहरों में फैले हुए हैं। इनमें से कुछ शहर हैं सैन जोस, मिशिगन, मिनिसोटा, पेन्सेल्वेनिया, पिट्सबर्ग, टेनेसी, डलास, ह्यूस्टन, और सिएटल। ये सभी जानकारियां नित्यानंद की ऑफिशियल बेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

 

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.