पीएम मोदी ने किसान योजना नहीं लागू करने पर ममता बनर्जी की आलोचना की, बनर्जी ने केंद्र और पैसे नहीं देने का लगाया आरोप

BY – FIRE TIMES TEAM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को एक दूसरे पर किसानों के कल्याण के खिलाफ काम करने का आरोप लगाया।

मोदी ने कहा कि बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में प्रधानमंत्री किसान निधि या पीएम-किसान योजना को लागू नहीं किया जिसकी वजह से बंगाल के 70 लाख किसान इस योजना से वंचित हुए हैं। इस योजना के तहत 6,000 रुपये हर साल किसानों को दिए जाते हैं।

मोदी ने कहा, “मुझे अफसोस है कि पश्चिम बंगाल के 70 लाख से ज्यादा किसानों को पीएम-किसान निधि का लाभ नहीं मिल पाया है। बंगाल के 23 लाख से अधिक किसानों ने इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है। लेकिन राज्य सरकार ने सत्यापन प्रक्रिया को लंबे समय के लिए रोक दिया है।”

उन्होंने यह भी कहा कि तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ राज्य में आंदोलन क्यों हुए, लेकिन इस मामले पर नहीं।

प्रधानमंत्री ने कहा, “जनता स्वार्थी राजनीति करने वालों को बहुत करीब से देख रही है। पश्चिम बंगाल में किसानों के लाभ पर बात नहीं करने वाले दल दिल्ली के नागरिकों को परेशान करने में लगे हुए हैं।”

इस बीच, बनर्जी ने प्रधानमंत्री पर हमला करते हुए कहा कि उन्होंने पश्चिम बंगाल के लिए कुछ नहीं किया है। बनर्जी ने दावा किया कि केंद्र से अभी तक राज्य को 85,000 करोड़ रुपये की बकाया राशि नहीं मिली हौ, जिसमें माल और सेवा कर मुआवजे के 8,000 करोड़ रुपये शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने पीएम-किसान योजना पर मोदी की आलोचना को खारिज कर दिया और इसके बजाय सहयोग न करने के केंद्र को जिम्मेदार ठहराया।

उन्होंने कहा, “मैंने व्यक्तिगत रूप से दो पत्र लिखे हैं और दो दिन पहले संबंधित मंत्री से बात की है लेकिन वे सहयोग करने से इनकार कर रहे हैं और राजनीतिक लाभ के लिए प्रचार कर रहे हैं।”

ममता बनर्जी ने कहा, “जब हम केंद्र के साथ कई योजनाओं को लागू कर रहे हैं, तो किसानों को लाभ पहुंचाने वाली योजना पर सहयोग नहीं करने का सवाल बेतुका लगता है।”

बनर्जी ने मोदी की इस टिप्पणी पर भी पलटवार किया कि उनकी विचारधारा ने पश्चिम बंगाल को नष्ट कर दिया है। इसका जवाब देते हुए, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि उनकी विचारधारा “इस देश के संस्थापक पिताओं की दृष्टि के अनुरूप है”।

इस बीच, तृणमूल कांग्रेस की सांसद सौगत राय ने भी केंद्र पर पीएम-किसान योजना पर किसानों को गुमराह करने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

कोलकाता में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, “भाजपा बार-बार कह रही है कि पश्चिम बंगाल के किसान इस योजना के तहत नकदी से वंचित हैं।”

सौगात राय ने कहा, “यह सत्य नहीं है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र से कहा था कि वह राज्य सरकार के माध्यम से किसानों को नकद लाभ दें। मोदी सरकार की मंशा मात्र राजनीतिक लाभ हासिल करना है।”

यह भी पढ़ें- किसानों ने केंद्र के नवीनतम वार्ता प्रस्ताव को कहा प्रचार प्रसार, कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग जारी

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.