मोदी सरकार के राज में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं: पप्पू यादव

 BY- FIRE TIMES TEAM

18 दिसम्बर पटना: जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर पर बैठ कर विरोध जताया. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार एमएसपी पर कानून बनाए. किसानों की आर्थिक स्थिति सही रहे इसके लिए यह बहुत जरूरी है.

जाप के अनिश्चितकालीन धरना का यह तीसरा दिन था. आपको बता दें कि जाप किसानों के समर्थन में तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर बड़ी पहाड़ी, बाइपास में अनिश्चितकालीन धरना पर बैठी हुई है.

पप्पू यादव ने कहा ये कृषि कानून नहीं काले कानून हैं. यह भारत की आत्मा पर चोट है. मोदी सरकार के राज में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं. सरकार बस किसानों की आय दोगुनी करने का वादा करती है. किसानों की स्थिति दिन-प्रतिदिन और बुरी होती जा रही है.

पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में 92 फीसदी छोटे और सीमांत किसान है. वर्तमान में पैक्स जो काम कर रही है उसमें किसानों को किसी प्रकार का फायदा नहीं हो रहा है. बिचौलिए और सरकार के लोग सारी कमाई कर रहे हैं. बिहार में पैक्स को खत्म कर मंडी सिस्टम लागू किया जाना चाहिए.

बिहार में विपक्ष पर हमला बोलते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि जब भी आम जनता के अधिकारों की बात आती है तो विपक्ष के नेता गायब हो जाते हैं. आज जब किसानों का भविष्य खतरे में है तो विपक्ष कहीं दिख नहीं रहा है.

आखिर में अनिश्चितकालीन धरने के बारे में उन्होंने कहा कि जब तक किसानों की मांगे पूरी नहीं हो जाती, हमारी पार्टी पूरे प्रदेश में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठी रहेगी.

इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा, प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्पू सहित पार्टी के तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहें.

आपको बता दें कि किसानों के विरोध प्रदर्शन में कई किसानों की जान भी जा चुकी है। बावजूद इसके मोदी सरकार पीछे हटने का नाम नहीं ले रही है।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.