देहरादून: माँ और जुड़वां बच्चों की हुई मौत, चार अस्पतालों ने इलाज करने से किया था इनकार

BY- FIRE TIMES TEAM

उत्तराखंड के देहरादून में एक महिला की जुड़वां बच्चों को जन्म देने के दो दिन बाद गुरुवार को मृत्यु हो गई क्योंकि चार अस्पतालों ने इस बात के संदेह के चलते की वो COVID-19 पॉजिटिव हो सकती है, भर्ती नहीं किया।

उत्तराखंड के स्वास्थ्य सचिव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिला मजिस्ट्रेट ने घटना की तीन अलग-अलग जांचों का आदेश दिया है।

24 वर्षीय सुधा सैनी को पेट में दर्द की शिकायत के बाद सोमवार को एक सरकारी अस्पताल ले जाया गया था, उनके पति कमलेश सैनी ने बताया कि वह सात महीने की गर्भवती थी।

हालांकि, अस्पताल अधिकारियों ने उन्हें भर्ती करने से इनकार कर दिया और दंपति को केवल तभी आने को कहा जब वह अपनी गर्भावस्था के नौ महीने पूरे कर ले।

कमलेश सैनी ने कहा, “उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी एनीमिक है और उसे खून चढ़ाना चाहिए। उन्होंने उसकी ठीक से जांच भी नहीं की।”

महिला के पति ने बताया कि एक दिन बाद, सुधा ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया, जिनकी कुछ ही घंटों बाद मृत्यु हो गई। उसके बाद उसका स्वास्थ्य बिगड़ गया।

दंपति ने शहर के कई अन्य अस्पतालों में भी गए लेकिन सभी ने भर्ती और इलाज करने से इनकार कर दिया।

कमलेश सैनी ने कहा, “मैं उसे दो सरकारी अस्पतालों और दो निजी अस्पतालों में ले गया, लेकिन सभी ने उसे यह कहते हुए भर्ती करने से इनकार कर दिया कि उसके शरीर का तापमान काफी अधिक है और ये COVID-19 मरीज ही सकती हैं।”

महिला के परिवार ने मदद के लिए देहरादून छावनी के विधायक हरबंस कपूर से संपर्क किया।

कपूर द्वारा मामले में हस्तक्षेप करने के बाद, महिला को एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि, आईसीयू में दो घंटे बाद उसकी मृत्यु हो गई।

देहरादून के मुख्य चिकित्सा अधिकारी बीसी रमोला ने कहा कि विभागीय जांच शुरू कर दी गई है।

रमोला ने कहा, “जब वह गंभीर अवस्था में थी तो सरकारी अस्पताल उसे भर्ती करने से कैसे मना कर सकते हैं?”

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.