मानसून सत्र: संसद सत्र के पहले ही दिन 25 सांसदों का कोरोना वायरस टेस्ट आया पॉजिटिव

BY- FIRE TIMES TEAM

संसद के मानसून सत्र के पहले दिन सोमवार को लगभग 25 सांसदों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया। पॉजिटिव होने वालों में से 17 लोकसभा के सदस्य हैं और आठ राज्यसभा के हैं।

मीनाक्षी लेखी, अनंत कुमार हेगड़े और परवेश साहिब सिंह उन 24 सांसदों में से हैं, जिनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है।

मीनाक्षी लेखी ने ट्वीट किया, “COVID ​​और जीनोम परीक्षण के लिए नियमित संसद परीक्षण के बाद यह पुष्टि हो गई है कि मैं कोरोना पॉजिटिव हूं।”

उन्होंने लिखा, “वर्तमान में मेरा स्वास्थ्य अच्छा है। मैं हर किसी से अनुरोध करती हूं जो हाल ही में मेरे संपर्क में आये हैं कि वे सभी अपना टेस्ट करवा लें। हम साथ मिलकर कोरोना से लड़ेंगे और इसे हराएंगे।”

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि पहले दिन के सत्र में बड़ी संख्या में सांसदों ने भाग लिया।

उन्होंने कहा, “यह दर्शाता है कि लोकतंत्र की जड़ें कितनी मजबूत हैं। असाधारण परिस्थितियों में भी सांसदों का आना एक बड़ी बात है।”

लोकसभा में, पहले दिन के सत्र में 200 के करीब सदस्यों ने भाग लिया। इनमें से, 30 से अधिक सांसद मुख्य कक्ष के ऊपर स्थित विज़िटर्स गैलरी में बैठे थे।

आमतौर पर छह सदस्यों को शामिल करने वाली बेंच में सिर्फ तीन लोगों के बैठने की योजना थी। सांसदों को उनकी बेंचों के सामने लगी प्लास्टिक ढालों से अलग किया गया था।

स्पीकर ओम प्रकाश बिड़ला के दायीं ओर ट्रेजरी बेंच के सामने की सीटों पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी बैठे थे, सीट नंबर 2 पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सीट नंबर 3 पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर थे।

सभी सदस्यों ने मास्क पहना था, और कुछ ने फेस शील्ड भी पहनी थी।

कोरोना वायरस संकट के बीच यह पहला संसद सत्र है। सत्र के लिए लागू की गई सावधानियों में लोकसभा और राज्यसभा के लिए अलग-अलग समय शामिल हैं, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए बैठने की व्यवस्था है।

केंद्र ने एक बयान में कहा, “प्रत्येक दिन प्रत्येक सदन के लिए चार घंटे का सत्र होगा राज्यसभा के लिए सुबह 9 से दोपहर 1 बजे और लोकसभा के लिए दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक।”

भारत का कोरोना वायरस केस सोमवार को 92,071 नए मामलों के साथ 48,46,428 हो गए। मारने वालों की संख्या बढ़कर 79,722 हो गई।

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने संसद को संबोधित करते हुए दावा किया कि भारत अपने कोरोना वायरस मामलों और मौतों को सीमित करने में सक्षम है।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.