IPL-2020: चेन्नई की हार के पीछे क्या रहे प्रमुख कारण?

 BY- FIRE TIMES TEAM
  • इस सीजन में चेन्नई की लगातार तीसरी हार।
  • हैदराबाद की 7 रन से जीत।
  • धोनी और जडेजा की पारी बेकार।
  • प्रियम गर्ग ने बनाये 51 रन।
  • जडेजा ने बनाए 35 बॉल पर 50 रन।

आईपीएल-2020 का 14वां मैच सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला गया। इस मैच में चेन्नई मात्र 7 रन से हार गई। चेन्नई की इस सीजन में यह लगातार तीसरी हार है।

हैदराबाद ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट पर 164 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 157 रन ही बना सकी।

मैच के हाइलाइट्स:

1. चेन्नई की गेंदबाजी को भारी पड़े आखिरी के 5 ओवर। हैदराबाद ने 15 ओवर में 100 रन ही बना पाए थे। आखरी की 30 बॉलों पर 63 रन बने।

2. प्रियम गर्ग की आतिशी पारी। मात्र 26 बॉलों पर 51 रन जिसमें 6 चौके और 1 छक्का शामिल है।

3. १० से २० ओवर में सनराइजर्स हैदराबाद ने बनाए १०० रन।

4. जडेजा के अर्धशतक से चेन्नई को उम्मीद जगी। लेकिन जीत में तब्दील न हो सकी। जडेजा का विकेट गिरना भी चेन्नई की हार में अहम कारण रहा।

5. धोनी की ढलती उम्र उनके आड़े आ गई। पहले धोनी ने 100 के स्ट्राइक रेट से भी रन नहीं बनाए जो कि आखरी में हार का कारण हो सकता है।

आज के मैच की शुरुआत काफी धीमी रही। हैदराबाद ने पहले 6 ओवर में मात्र 42 रन बनाए और एक विकेट भी खो दिया था। फिर 10 ओवर में सिर्फ 63 रन।

डेविड वार्नर ने 29 गेंदों पर 28 रन बनाये जो दिखाता है कि शुरुआत में हैदराबाद ने मैच काफी धीमा खेला। इसके बाद प्रियम गर्ग और अभिषेक शर्मा ने आक्रामक रुख अपनाते हुए हैदराबाद के लिए 77 रन जोड़ डाले।

अभिषेक ने 24 गेंद पर 31 रन बनाये तो प्रियम गर्ग ने 21 गेंदों पर 48 रन। इन दोनों की साझेदारी ने मैच को हैदराबाद की झोली में डालने का काम किया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पावरप्ले से पहले ही चेन्नई के दो बैट्समैन पवेलियन लौट गए। अंबाती रायडू 9 गेंद पर 8 रन ही बना पाए।

चेन्नई ने 12 ओवर में सिर्फ 58 रन बनाए और 4 विकेट खो दिए। मैच का रूख यहीं से साफ हो गया था कि चेन्नई की हार होने वाली है लेकिन धोनी से अभी भी उम्मीद थी। धोनी तब 15 गेंद पर 14 रन बना कर खेल रहे थे।

चेन्नई को आखरी के 6 ओवर में 107 रनों की जरूरत थी। यह आंकड़ा कोई करिश्माई पारी के बाद ही पाया जा सकता था। धोनी और जडेजा ने ऐसा करने का प्रयास भी किया लेकिन आखरी में वह भी असफल रहे।

और आखिरकार चेन्नई सुपरकिंग्स को 7 रन से हार का सामना करना पड़ा।

 

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.