मोदी जी ने जीडीपी गिरा दी तो क्या हुआ, भुखमरी बढ़ाई भी तो है: कांग्रेस

 BY- FIRE TIMES TEAM

ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 की रिपोर्ट में भारत को 107 देशों में 94 वें स्थान पर रखा गया है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2019 में भारत117 देशों में से 102 वें स्थान पर था, जिसे कंसर्न वर्ल्डवाइड और वेल्थुन्गेरिल्हे ने संयुक्त रूप से प्रकाशित किया था। 2018 में ग्लोबल हंगर इंडेक्स पर भारत 119 देशों में से 103 वें स्थान पर था।

इसी को लेकर कांग्रेस ने एक ट्वीट किया। इस ट्वीट के माध्यम से कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसा। इसमें जीडीपी और भुखमरी को लेकर बात कही गई।

जीएचआई की वार्षिक रिपोर्ट का उद्देश्य वैश्विक, क्षेत्रीय और देश स्तर पर भूख को मापना और ट्रैक करना है। अपनी नवीनतम रिपोर्ट में जीएचआई ने दुनिया भर में भूख को “मध्यम” स्तर पर रखा है जबकि चेतावनी दी है कि दुनिया भर में लगभग 690 मिलियन लोग भूूूख से प्रभावित हैं।

50 में से 27.2 के स्कोर के साथ, 2020 ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट भारत में भूख के स्तर को “गंभीर” के रूप में दर्शाया गया है। जबकि 9.9 से कम का स्कोर “कम” भूख का प्रतीक है, 10-19.9 की भूख का “मध्यम” स्तर दर्शाता है, 20-34.9 अंक “गंभीर” भूख का, 35-39.9 का संकेत “खतरनाक” और 50 से अधिक “बेहद” है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि 2020 में जीएचआई सूचकांक पर भारत का स्कोर 27.2 था, 2000 में 38.9, 2006 में 37.5 और 2012 में 29.3 था। पहले की तुलना में इस वर्ष कुछ सुधार हुआ है। भारत 2019 में 117 देशों में से 102 वें स्थान पर था।

जीएचआई की नवीनतम रिपोर्ट हालांकि, दक्षिण एशिया में उच्च बाल स्टंटिंग दर की ओर इशारा करती है, जो यह कहती है कि 2000 के बाद से कुछ सुधार हुआ है।

रिपोर्ट में कहा गया, “बांग्लादेश, भारत, नेपाल और पाकिस्तान के लिए 2014 के डेटा से पता चला है कि स्टंटिंग घरों से बच्चों के बीच केंद्रित है। कमजोर आहार विविधता, मातृ शिक्षा के निम्न स्तर और घरेलू गरीबी अभाव सहित कई रूपों का सामना करना पड़ रहा है।”

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.