छत्तीसगढ़: भाजपा नेता नक्सलियों को मुहैया कराता था ट्रैक्टर, लैपटॉप, प्रिंटर; हुआ गिरफ्तार

BY- FIRE TIMES TEAM

छत्तीसगढ़ पुलिस ने दंतेवाड़ा जिले में भारतीय जनता पार्टी के एक नेता और एक अन्य व्यक्ति को नक्सलियों को ट्रैक्टर और जरूरी सामान उपलब्ध करवाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने कहा कि आरोपियों की पहचान जगत पुजारी और रमेश उसेंडी के रूप में हुई है और उन्हें शनिवार को गिरफ्तार किया गया है।

बारसूर गांव के मूल निवासी पुजारी, भारतीय जनता पार्टी की दंतेवाड़ा जिला इकाई के उपाध्यक्ष हैं।

पल्लव ने कहा कि पुजारी निगरानी में थे क्योंकि जिला पुलिस को अबुझमाड़ इलाके में नक्सलियों को सामग्री की आपूर्ति के बारे में जानकारी मिली थी।

पल्लव ने बताया कि उन्होंने जो ट्रैक्टर खरीदा था वह नक्सली नेता अजय आलमी के लिए था, आलमी की गिरफ्तारी पर 5,00,000 का इनाम भी रखा गया है।

ट्रैक्टर, जिसकी कीमत 9,10,000 रुपये है, जब्त कर लिया गया है।

पल्लव ने कहा, “पिछले कुछ महीनों से हम कई नक्सली नेताओं के कॉल को इंटरसेप्ट कर रहे हैं, जिनमें अलमी और पुजारी का सेल नंबर भी शामिल है।”

उन्होंने कहा, “हाल ही में, आलमी ने पुजारी से कहा कि उन्हें एक ट्रैक्टर की जरूरत है, जिसे पुजारी को खरीदना होगा क्योंकि उसने बहुत पैसा कमाया है।”

पल्लव ने बताया, “पुजारी अपने नाम से ट्रैक्टर खरीदने के लिए सहमत नहीं था, उन्होंने कहा कि उन्हें किसी ऐसे व्यक्ति की जरूरत है जिसके दस्तावेजों का उपयोग ट्रैक्टर की खरीद के लिए किया जा सके। इसलिए, वे रमेश उसेंडी से मिले जिनकी पत्नी आलमी गांव से हैं।”

पुलिस ने दंतेवाड़ा के गेदम शहर के पास दो स्थानों पर बैरिकेड्स लगा दिए और सभी नए ट्रैक्टरों की जाँच की। जब पुलिस ने उसे पकड़ा तो उसेंडी ट्रैक्टर चला रहा था।

पुलिस अधीक्षक ने कहा, “पूछताछ के दौरान, उसेंडी ने खुलासा किया कि नक्सली नेता आलमी ने उसे ट्रैक्टर खरीदने के लिए 4 लाख रुपये दिए और बताया कि पुजारी उसकी पूरी प्रक्रिया में मदद करेगा।”

पुलिस ने पुजारी को इसके बाद गिरफ्तार कर लिया और उसने कबूल किया कि वह नक्सलियों को माल की आपूर्ति करता था।

पल्लव ने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “पुजारी पिछले 10 सालों से तरह-तरह के अनुबंध कार्यों में है और हमें उसके द्वारा नक्सलियों को दी जाने वाली विभिन्न मदद, जिसमें उनकी जरूरत की चीजें होती थी, के बारे में जानकारी मिल रही थी।”

उन्होंने कहा, “हाल ही में उन्होंने कहा कि कुछ लोगों के जरिये नक्सलियों को 100 रेडियो सेट, प्रिंटर, लैपटॉप पहुंचाए हैं।”

आरोपियों पर छत्तीसगढ़ विशेष सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है। मामले में आगे की जांच जारी है।

इस बीच, भाजपा के जिलाध्यक्ष चैतराम अट्टामी ने कहा कि राज्य के वरिष्ठ नेताओं को गिरफ्तारियों के बारे में सूचित कर दिया गया है और वे पुजारी के खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला करेंगे।

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.